You are currently viewing Republic Day 2024: फ्रांसीसी राष्ट्रपति मैक्रो रहेंगे मुख्य अतिथि, गणतंत्र दिवस समारोह में दिया गया इन्हें निमंत्रण

Republic Day 2024: फ्रांसीसी राष्ट्रपति मैक्रो रहेंगे मुख्य अतिथि, गणतंत्र दिवस समारोह में दिया गया इन्हें निमंत्रण

भारत में आयोजित हो रहा है इस बार के गणतंत्र दिवस में फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रो को मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रण दिया गया है। यह छठवें बार फ्रांसीसी नेता को मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया गया है। इनसे पहले भी फ्रांसीसी प्रधानमंत्री जैक शिराक 1976 गोवामांतरित किया गया था। गणतंत्र दिवस 2024 में भव्य रूप से आयोजित किया जाएगा। 

गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि होंगे इमैनुएल मैक्रो 

हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी गणतंत्र दिवस के मौके पर मुख्य अतिथि के तौर पर किसी नेता को बुलाना अनिवार्य था। और इस बार के फ्रांसीसी राष्ट्रपति को गणतंत्र दिवस के समझ में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया है। इससे पहले राष्ट्रपति ने 14 जुलाई को पेरिस में आयोजित बेस्ट स्टाइल डे परेड में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी विशिष्ट अतिथि के रूप में आमंत्रित किया गया था। 

इससे पहले नरेंद्र मोदी बेस्ट स्टाइल डे परेड में सम्मानित अतिथि बनने वाले दूसरे प्रधानमंत्री बने। इससे पहले 2009 में तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह परेड में शामिल होने वाले पहले अतिथि के रूप में शामिल हुए थे। फ्रांस के राष्ट्रपति को मुख्य अतिथि निमंत्रण से पहले जोए बाइडेन को आमंत्रित किया गया था। परंतु कुछ जरूरी कामों की वजह से वह भारत नहीं आ पाए थे। 

9B9A861B D747 4D6E AC22 31AE505781B4

भारतीय सेना के टुकड़ी का परेड में समर्थन

इस वर्ष फ्रांस के राष्ट्रपति को आमंत्रित कर भारत में फ्रांस के साथ अपने मैत्रीपूर्ण संबंध को और मजबूत किया है। हालांकि हमारे संबंध फ्रांस से काफी पहले से ही बहुत ही बेहतर है। भारत की डिफेंस सिस्टम अधिकतर फ्रांस से ही इंपोर्ट की जाती है। राफेल से लेकर छोटे वेपंस तक फ्रांस से तकनीकी हथियार लिए जाते हैं। इसी के साथ-साथ भारत फ्रांस राजनीतिक साझेदारी की 25वीं वर्षगांठ के अवसर पर सेवा के तीनों अंगों की 241 सदस्य भारतीय सहस्त्र बालों की टुकड़ी मैं भी परेड में हिस्सा लिया था। उसे परेड में भारतीय सेवा की टुकड़ी का नेतृत्व पंजाब रेजीमेंट के राजपूताना राइफल रेजीमेंट के साथ किया गया था। 

भारत की अध्यक्षता में आयोजित G20 शिखर सम्मेलन

फ्रांसीसी राष्ट्रपति ने इस वर्ष सितंबर के माह में भारत के अध्यक्षता में आयोजित किए गए g20 शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए भारत का द्वारा भी किया था। भारत दौरे के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 10 सितंबर को जी-20 शिखर सम्मेलन का आयोजन किया और इस मौके पर दिल्ली में द्विपक्षीय बैठक भी की। बैठक के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा उन्होंने भारत फ्रांस संबंधों को मजबूत करने के लिए कई महत्वपूर्ण फैसले लिए हैं। भारत फ्रांस मित्रता और बेहतर करने के लिए संपूर्ण प्रयासरत होंगे।‌ भारत के कई मामलों पर फ्रांस के फैसला काफी महत्वपूर्ण है। भारत और फ्रांस के ट्रेड में भी काफी अधिक बढ़ोतरी देखने को मिली है। 

पहले बाईडेन के शामिल होने की थी उम्मीद

भारत के गणतंत्र दिवस के अवसर पर इससे पहले मुख्य अतिथि के तौर पर अमेरिका के राष्ट्रपति बाईडेन को गणतंत्र दिवस के अवसर पर मुख्य अतिथि आमंत्रित किया जाना था। हालांकि सितंबर में अमेरिका के राजदूत एरिक ने कहा कि इस साल गणतंत्र दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका के राष्ट्रपति को आमंत्रित करेंगे। परंतु कुछ कारण की वजह से उन्हें आमंत्रित नहीं किया गया या वह आ नहीं पाएंगे। जिस कारण फ्रांस के राष्ट्रपति को छठवीं बार बतौर अतिथि आमंत्रित किया गया है। इससे पहले भी पूर्व फ्रांसीसी प्रधानमंत्री को 1976 और 1998 में भारत के गणतंत्र दिवस समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल किया गया था। इसी के साथ-साथ भारत फ्रांस रिलेशन पहले से काफी मजबूत हुआ है.

Leave a Reply